जब फुटबॉल के मैदान में फुटबॉल की जगह पहुंची बिल्लियाँ तो क्या हुआ ?

आपने अक्सर फुटबॉल के मैदान में खिलाडियों को फुटबॉल के साथ खेलते देखा होगा. और हम और आप में  से बहुत लोगों के ये खेल बहुत पसंद भी होगा. मुझे भी है. जैसे क्रिकेट का नाम आते ही दिमाग में सचिन, विराट, धोनी का नाम आता है. वैसे ही फुटबॉल की दुनिया के बादशाह मेसी, और रोनाल्ड माने जाते है, तो आपने भी कभी अपने दोस्तों को या तो किस और  को फुटबॉल की तरह लात-घुसो से पिटा होगा. कभी आपने सोचा है की की अगर फुटबॉल के मैदान में फुटबॉल की जगह बिल्ली हो. तब फुटबॉल फील्ड का नजारा क्या होगा? नहीं ना तो चलिए आज हम आपको दिखाते है की कैसा होगा.




\#1 आजा-आजा  मेरी क्यूट बिल्ली मौसी तुझे प्यार दूँ 

#2 YES.. सभी मेरा है. मै किसी को नहीं दूंगा हाँ

#3.अबे छोड़ हवसी, मुझे… नहीं तो पुलिस को बुलाऊंगी

 

#4. कितने बिल्ली है.. साम्भा…

 

#5. अब कोई खेल नहीं होगा क्यूंकि मेरी जान मेरी बाहों में है…

 

#6.नहीं…. मुझे छोड़ के मत जाओ पारो..

#7.चल हट… मई तो चली उड़ अपनी सजन के घर…

#8. चल आजा हो जाये एक एक हाथ…

#9. मै तो सुपरमैन, सलमान का फैन…

 

#10.नहीं..कृपया मुझे आलिया भट्ट के लिए मुझे मत मारो…

#11. आजा मै भी ही लेती हूँ…

 

#12. पटक के मारूंगी आज तुझे…

#13. मम्मी…बिल्ली…

 

बात जो सच में गौर करने वाली है

तो आपको कैसा लगा मज्जा आया ना. दरअसल इंडिया में हमलोग बिल्ली को नेगेटिव एनर्जी के तौर पर मानते है. अगर कोई बिल्ली रास्ता काट दे तो उसको अपसगुन मानते है. लेकिन विदेशो में लोग अपने घरो में बिल्लियाँ पालते है. न जाने हमलोग ऐसी कितनी ही दकियानूसी ख्यालातो से भरे पड़े है. अगर सच में बिल्लियाँ अपसगुन होती होगी तो जो उनको पालते है उनका तो कभी अच्छा नहीं होता होगा? ये तो कुदरत का देन है.

दरअसल ऊपर दी हुई फोटो को फोटोशॉप करके बनाया गया है. चाहे जैसे भी बनाया गया हो भाई..है तो मजेदार.

अगर आपको ये पोस्ट अच्छा लगा तो आप कमेन्ट में जरुर बताये और अपने दोस्त को साथ भी शेयर करे ताकि और भी ऐसे ही मजेदार चीजे आपके लिए ला सकू..

सोर्स:-brodepanda